धारा 340 आईपीसी (IPC Section 340 in Hindi) - सदोष परिरोध या गलत तरीके से प्रतिबंधित करना।



धारा 340 का विवरण

भारतीय दंड संहिता की धारा 340 के अनुसार,  जो भी कोई किसी व्यक्ति का गलत तरीके से अवरोध करता है कि उस व्यक्ति को निश्चित सीमा से परे जाने से निवारित कर दे, वह उस व्यक्ति को गलत तरीके से प्रतिबंधित करना कहलाता है।
दृष्टांत
(क) “य” को दीवार से घिरे हुए स्थान में प्रवेश कराकर “क” उसमें ताला लगा देता है । इस प्रकार “य” दीवार की परिसीमा से परे किसी भी दिशा में नहीं जा सकता । “क” ने “य” का गलत तरीके से प्रतिबंधित किया है ।
(ख) “क” एक भवन के बाहर जाने के द्वारों पर बन्दूकधारी मनुष्यों को बैठा देता है और “य” से कह देता है कि यदि “य” भवन के बाहर जाने का प्रयत्न करेगा, तो वे “य” को गोली मार देंगे । “क” ने “य” का गलत तरीके से प्रतिबंधित किया है ।




आईपीसी धारा 340 शुल्कों के लिए सर्व अनुभवी वकील खोजें

लोकप्रिय आईपीसी धारा