125 सीआरपीसी अंतरिम जवाब प्रार्थना पत् -कानूनी सहायता

सवाल


125 सीआरपीसी में अंतरिम जवाब प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया गया और उस की प्रतिलिपि पेटीशनर वकील को प्रदान की गई लेकिन सामने वाले वकील जवाब प्रार्थना पत्र के साथ में सलंग्न मेरे पर्सनल दस्तावेज जैसे पे स्लिप लोन की डिटेल कॉल रिकॉर्ड अन्य मेडिकल दस्तावेज जो अलग से बांधकर के प्रस्तुत किए गए हैं उनकी प्रतिलिपि फोटो कॉपी मांग रहे हैं जिस को मैंने प्रदान करने से मना कर दिया लेकिन फैमिली कोर्ट का न्यायाधीश इस बात को नहीं मान रहा था लेकिन फिर भी मैंने अभी तक मना किया है 125 सीआरपीसी में लंदन दस्तावेजों की सूची सामने वाले वकील को देने के प्रावधान क्या है पे स्लिप लोन की डिटेल या फोटो कॉपी कोर्ट से नकल प्राप्त करने पर भी नहीं मिलते हैं तो फिर कोर्ट में इनकी फोटो कॉपी लेने सामने वाला वकील यह सब कैसे मांग सकता है इसके सही नियम क्या है कृपया अवगत कराएं

उत्तर (1)


इस तरह का कोई प्रावधान नहीं है आप अपनी कोई भी पर्सनल डिटेल नहीं देना चाहते हैं तो आप मत दे ,
आपकी मर्जी है अपनी पर्सनल डिटेल के बारे में आप कोई भी जानकारी ना दें , न्यायालय के जज साहब आपसे कोई जबरदस्ती नहीं कर सकते ,

भारत के अनुभवी तलाक वकीलों से सलाह पाए

अस्वीकरण: उपर्युक्त सवाल और इसकी प्रतिक्रिया किसी भी तरह से कानूनी राय नहीं है क्योंकि यह LawRato.com पर सवाल पोस्ट करने वाले व्यक्ति द्वारा साझा की गई जानकारी पर आधारित है और LawRato.com में तलाक वकीलों में से एक द्वारा जवाब दिया गया है विशिष्ट तथ्यों और विवरणों को संबोधित करें। आप LawRato.com के वकीलों में से किसी एक से प्रतिक्रिया प्राप्त करने के लिए अपने तथ्यों और विवरणों के आधार पर अपनी विशिष्ट सवाल पोस्ट कर सकते हैं या अपनी सवाल के विस्तार के लिए अपनी पसंद के वकील के साथ एक विस्तृत परामर्श बुक कर सकते हैं।


संबंधित आलेख

इसी तरह के प्रश्न


नमस्कार सर जी, मेरा नाम रवि कुमार है मेरी बड़ी बहन की शादी के 3 वर्ष बीत गए बहनोई मारपीट लड़ाई झगडा करता है और दहेज़ की मा…

जवाब देखें

मैं अपनी वाइफ को तलाक देना चाहता हूं उसने घर पर बहुत ही परेशानी कर रखी है बात बात पर लोगों से गाली गलौज करना बात लड़ा…

जवाब देखें

125 सीआरपीसी में अंतरिम जवाब प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया गया और उस की प्रतिलिपि पेटीशनर वकील को प्रदान की गई ले…

जवाब देखें

Sir meri marriage 5th feb.2018 ko hui thi fir may 17th 2018 ko meri wife 2month ki pregnent thi uske parents ne or uske brother ne choti si baat ko lekr meri wife ko bachaa girane ki medicine de di jab mene objection kiya to wo kahne lge ki maa ko 2month ka child girane ki permission kisi se nhi len…

जवाब देखें