quesपिता की मौत के बाद संपत्ति माता के नाम कैसे स्थानांतरित की जाए

हाल ही में मेरे पिता का निधन हो गया। अब हम संपत्ति को हमारी मां के नाम पर स्थानांतरित करना चाहते हैं। यह स्वयं अर्जित संपत्ति थी इसके लिए क्या प्रक्रिया है?  इसके बारे में हमें कैसे जानना चाहिए
 

  • ansआपके पिता किसी भी वसीयतनामा को छोड़ें बिना गुज़र चुके थे, इसलिए उनकी संपत्ति उनके श्रेंणी-1 के उत्तराधिकारियों उनकी पत्नी, बच्चे और उनकी मां(यदि वह जीवित है) के बीच समान हिस्से में बांटी की जाएगी। किसी को मृतक व उनके सभी श्रेणी-I के उत्तराधिकारियों का एक विस्तृत आवेदन प्रस्तुत करके तहसलीदार से कानूनी उतराधिकार प्रमाणपत्र प्राप्त करना होगा। पूछताछ करने के बाद, तहसीलदार कानूनी उतराधिकार प्रमाणपत्र जारी करेगा। उस प्रमाण पत्र के आधार पर, कानूनी उत्तराधिकारियों को संपत्ति के नाम परिवर्तन के लिए अधिकारियों से संपर्क करना होगा। हालांकि, आप चाहते हैं कि संपत्ति को आपकी मां के नाम पर पंजीकृत किया जाना चाहिए। इसके लिए, अन्य सभी उत्तराधिकारियों को अपनी मां के पक्ष में संपत्ति में अपने संबंधित शेयरों को त्यागने के लिए एक पंजीकृत दस्तावेजों का पालन करना होगा। इसमें बहुत ही कम पंजीकरण शुल्क शामिल होंगे। पंजीकृत हो जाने के बाद, नाम परिवर्तित के बाद संपत्ति को पाने के लिए कानूनी उत्तराधिकारी प्रमाण पत्र व पंजीकृत दस्तावेज के साथ ही अधिकारियों से संपर्क कर सकतें है।

  • अस्वीकरण: ऊपर लिखित सवाल और उसके जवाब किसी भी प्रकार के कानूनी राय नहीं है क्योंकि ये आधारित है सवाल पे जो की LawRato.com पर किसी व्यक्ति ने पूछा है तथा जवाब पे जो की LawRato.com पे प्रॉपर्टी वकीलो ने विशिष्ट तथ्य और जानकारी संबोधित करने के लिए दिया है। आप अपना विशिष्ट सवाल अपने तथ्य और जानकारी के आधार पर जवाब पाने के लिए LawRato.com पर डाल सकते है या अपनी पसंद के वकील के साथ अपनी समस्या के बारे में विस्तार में परामर्श बुक कर सकते है।
भारत के शीर्ष प्रॉपर्टी वकीलो से परामर्श करे

LawRato कैसे काम करता है

जानिए LawRato कैसे काम करता है और कानूनी परामर्श लेना सरल बनाता है

मुफ्त प्रश्न पूछे

मुफ्त प्रश्न पूछे और कई श्रेष्ठ वकीलों से मुफ्त में उत्तम सलाह पाए

वकील से बात करें

भारत में शीर्ष वकीलों को आसनी से ढूंढे और उनके साथ निजी सलाह/परामर्श बुक करें

कानूनी शुल्क का अनुमान पाए

अपनी कानूनी आवश्यकता के लिए कई कानूनी शुल्क के प्रस्ताव पाए